राजस्थान में विधानसभा चुनाव 2023 में है लेकिन राजस्थान में चुनावी पारा सर गर्मी पर है राजस्थान बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष सतीश पूनिया राज्य की गहलोत सरकार पर जमकर आरोप पर आरोप लगाए जा रहे हैं तथा गहलोत के सामने विपक्ष की महत्वपूर्ण भूमिका निभा रहे हैं।

इसी कड़ी में सतीश पूनिया ने एक बड़ी प्रतिज्ञा ले ली है सतीश पूनिया ने एक सभा के दौरान प्रतिज्ञा ली है कि जब तक राजस्थान से गहलोत सरकार को हटा नहीं देंगे तब तक वह एक समय ही खाना खाएंगे। सतीश पूनिया ने बताया कि वह केवल सुबह का खाना ही लेंगे।

विधानसभा चुनाव में अभी काफी लंबा समय बाकी है और सतीश पूनिया नहीं है प्रतिज्ञा ले ली है कि एक समय ही खाना खाएंगे। इसके चलते उन्हें लंबे समय तक एक समय खाना खाना पड़ेगा।

सतीश पूनिया के इस फैसले के बाद सचिन पायलट में अपनी प्रतिक्रिया दी है सचिन पायलट ने कहा कि सतीश पूनिया जी को बहुत वर्षों तक भूखा रहना पड़ेगा क्योंकि राज्य में कांग्रेस सरकार को हटाना बहुत मुश्किल है। कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष गोविंद सिंह डोटासरा ने भी चुटकी लेते हुए कहा कि ऐसा लगता है कि सतीश पूनिया जी को आजीवन भुखा आना पड़ेगा।

लगता है कि सचिन पूनिया बीजेपी की हाईकमान को यह दिखाने के लिए कि राजस्थान से गहलोत को हटाने के लिए सचिन पूनिया एकमात्र फेस है। इसलिए ही उन्होंने यह प्रतिज्ञा ली है। क्योंकि राजस्थान में सीएम फेस के लिए बीजेपी में करीब एक दर्जन लोग अपनी दावेदारी साबित करने में लगे हुए हैं।