सतीश पूनिया इस समय राजस्थान सरकार का विरोध करने में लगे हुए हैं तथा जनता को राजस्थान सरकार की नाकामियों को उजागर करने में पीछे नहीं हट रहे हैं इसी कड़ी में पुनिया जी ने कल कोटा में एक सभा को संबोधित किया।

इस सभा में पुनिया ने एक विवादित बयान जारी कर दिया उन्होंने बीजेपी को सर्वश्रेष्ठ बताते हुए कहां की कांग्रेस पार्टी उनकी जूती के बराबर भी नहीं है जिसके चलते कांग्रेस के युवाओं को यह बात हजम नहीं हुई।

इसके चलते जब सचिन पूनिया कोटा का दौरा खत्म कर जयपुर के लिए रवाना हो रहे थे तब रास्ते में कांग्रेस के कुछ कार्यकर्ताओं ने उनका रास्ता रोक दिया। उनके काफिले को काले झंडे दिखाने लगी तथा उसी बीच कुछ उपद्रवियों ने गाड़ी पर पत्थर फेंकना शुरू कर दिया तथा उनके पीएसओ के कपड़े फाड़ दिए।

इसके बाद कोटा पुलिस को इसकी सूचना दी गई जिसके बाद पुलिस ने आकर पूनिया जी के काफिले को वहां से सुरक्षित निकालने में मदद की। इसके बाद सचिन पूनिया ने ट्वीट कर कहा कि “मैं सरकार से लड़ रहा हूं जिसके कारण मुझ पर पुलिस द्वारा लाठी है तथा कांग्रेसी गुंडों द्वारा पत्थर मारे जा रहे हैं लेकिन मैं यह लड़ाई किसी भी हालत में नहीं छोडूंगा।”