राजस्थान में दिन-प्रतिदिन लुटेरे दुल्हनों के मामले सामने आ रहे हैं इसी कड़ी में भीनमाल पुलिस ने कुछ दिन पहले घर से सोने के जेवर व नगदी लेकर फरार हुई लुटेरी दुल्हन को व उसकी साथी दलाल को गिरफ्तार किया है। लुटेरी दुल्हन शादी के बाद अपने ससुराल में सिर्फ 17 दिन ही रही थी शादी के 18वे दिन वह मौका देख कर फरार हो गई थी।

पुलिस के अनुसार भीनमाल निवासी धर्मचंद ने रिपोर्ट में बताया है कि उसकी शादी 3 जनवरी को आबूरोड में हुआ था। उसकी शादी यूपी के पानी पूरा खुर्द निवासी सीता के साथ हुई थी यह शादी सिरोही के स्वरूपगंज निवासी मनीषा पत्नी राजू सैनी ने करवाई थी । शादी के 17 दिन बाद 21 जनवरी को लुटेरी दुल्हन घर से डेढ़ लाख रुपए नगदी व 5 तोला सोना लेकर फरार हो गई। पुलिस ने मामला दर्ज कर तहकीकात शुरू की तथा महिला दलाल मनीषा सहित सीता को गिरफ्तार कर लिया।

शादी में हुई थी धर्मचंद की मनीषा से मुलाकात

धर्मचंद ने बताया कि वह कुछ समय पहले अपनी मौसी के यहां स्वरूपगंज में एक शादी में गया था जहां पर मनीषा ब्यूटी पार्लर का काम करने के लिए आई थी वहां पर उसकी मुलाकात मनीषा से हुई। मनीषा ने धर्मचंद को बताया कि एक सीता नाम की लड़की को जानती है लो एक गरीब लड़की है जिसके लिए एक अच्छे वर की तलाश है। मनीषा ने फिर धर्म चंद को सीता से शादी करने के लिए तैयार किया तथा 3 जनवरी को आबू रोड में उन दोनों की शादी करवा दी।

दुल्हन व दलाल ने स्वीकारा अपना जुर्म

थानाधिकारी चंपावत ने बताया कि उन्होंने लुटेरी दुल्हन व दलाल को पकड़ने के लिए एक टीम का गठन किया तथा टीम की मदद से आरोपियों की जानकारी हासिल की। काफी समय बाद पुलिस आरोपी लुटेरी दुल्हन व उसकी साथी दलाल मनीषा को गिरफ्तार कर लिया जिसके बाद पूछताछ में आरोपियों ने अपना जुर्म कबूल कर लिया। पुलिस लूट का सामान व नगदी प्राप्त करने की कोशिश कर रही है।