धौलपुर जिले में एक पारिवारिक रंजिश का बहुत बड़ा मामला सामने आया है जिसमें एक युवक पर उसके ही ताऊ व ताऊ के लड़के ने एक के बाद एक चार गोलियां मार दी उसके बाद उसे मरा हुआ समझकर फरार हो गए। जिसके बाद युवक को स्थानीय अस्पताल में भर्ती कराया गया जिसके बाद से जयपुर रेफर कर दिया गया। इससे पहले युवक के बड़े भाई की भी ताऊ ने हत्या कर दी थी जिसके बाद वह 5 दिन पहले ही जमानत पर लौटा था।

राजाखेड़ा पुलिस स्टेशन के इंस्पेक्टर ने बताया कि राम हरि अपने किसी रिश्तेदार के कार्यक्रम में फिरोजाबाद गया हुआ था वहां से बाइक से वह अपने घर आ रहा था उसी समय उसके ताऊ व ताऊ के लड़के ने उस पर गोलियां चलाना शुरू कर दी। 4 गोलियां लगने के बाद वहां से फरार हो गए।

दोनों परिवारों के बीच चल रही है पारिवारिक रंजिश

हमले में राम हरि को दो गोलियां कंधे पर व 2 गोलियां कूल्हे पर लगी जिसके बाद वह गंभीर रूप से घायल हो गया। राहगीरों ने उसकी हालत देख पुलिस को सूचित किया जिसके बाद पुलिस ने उसे स्थानीय अस्पताल में भर्ती कराया जहां से उसे इलाज के लिए जयपुर रेफर कर दिया गया। जानकारी के मुताबिक दोनों परिवारों के बीच लंबे समय से आपसी रंजिश चल रही है।

एसआई ही मान सिंह ने बताया कि 5 महीने पहले 27 अक्टूबर को देवदास का पूरा गांव में बिजली का खंबा लगाने की बात को लेकर दो सगे भाई राजाराम व अजब सिंह के बीच झगड़ा हो गया इसके बाद राजाराम व उसके दो बेटों ने अजब सिंह के बड़े बेटे गंगाराम की लाठी व डंडों से पीट कर हत्या कर दी। इस हत्या के मामले में राजाराम व उसके दोनों बेटे व दो महिलाओं को जेल भेज दिया गया था। तथा दो जगह अभी भी फरार चल रहे हैं।